उदाहरण अलंकार की परिभाषा, पहचान और उदाहरण

प्रस्तुत लेख में उदाहरण अलंकार का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया गया है। जिसे पढ़कर आप अपने सभी प्रश्नों का हल प्राप्त कर लेंगे। यह लेख आपके सभी परीक्षाओं के लिए कारगर है। अतः इसका अध्ययन आपको आपकी परीक्षा में सफलता दिला सकता है।

अलंकार काव्य का आभूषण है,जिस प्रकार महिलाएं अपने रूप को निखारने के लिए सौंदर्य की वृद्धि के लिए आभूषणों को धारण करती है। उसी प्रकार काव्य में अलंकार का प्रयोग सौंदर्य वृद्धि के लिए किया जाता है।

इस अलंकार के अंतर्गत दो भिन्न स्वरूप को एक जैसा होता दिखाया जाता है।

उदाहरण अलंकार

परिभषा:- जिन दो वाक्यों का साधारण धर्म भिन्न है, उसमें वाचक शब्द के द्वारा समता दिखाई जाए तो उदाहरण अलंकार होता है। दृष्टांत अलंकार में वाचक शब्द नहीं रहता किंतु उदाहरण में रहता है।

उदाहरण अलंकार के उदाहरण

उदित कुमुदिनी नाथ हुए प्राची में ऐसे

सुधा-कलश रत्नाकर से उठता हो जैसे।

यहां कुमुदिनी-नाथ और सुधा-कलश दोनों का धर्म एक नहीं है परंतु ‘ऐसे’ और ‘जैसे’ इन वाचक शब्दों के द्वारा सादृश्य प्रकट किया गया है। इस कारण यहां उदाहरण अलंकार है।

अन्य उदाहरण-

  • जैसे गुहारते हुए युधिष्ठिर के सामने से , भागे थे विदुर और भी घने जंगलों में। ।

यह भी पढ़ें

अन्य अलंकार की जानकारी भी प्राप्त करें

अनुप्रास अलंकार

यमक अलंकार

श्लेष अलंकार

उपमा अलंकार

रूपक अलंकार

उत्प्रेक्षा अलंकार

अतिशयोक्ति अलंकार

मानवीकरण अलंकार

पुनरुक्ति अलंकार

संदेह अलंकार

अन्योक्ति अलंकार

विशेषोक्ति अलंकार

विरोधाभास अलंकार

वक्रोक्ति अलंकार

वीप्सा अलंकार

परिकर अलंकार

संज्ञा की परिभाषा, भेद, प्रकार और उदाहरण।

रस की परिभाषा, भेद, प्रकार और उदाहरण

अलंकार की परिभाषा, भेद, प्रकार और उदाहरण – Alankar in hindi

सर्वनाम की पूरी जानकारी – परिभाषा, भेद, प्रकार और उदाहरण 

हिंदी वर्णमाला की पूरी जानकारी

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द – One Word Substitution

उपसर्ग की संपूर्ण जानकारी

क्रिया की परिभाषा, उदहारण, भेद

समास की परिभाषा, उदाहरण, भेद

अव्यय की परिभाषा, भेद, और उदाहरण

विशेषण की परिभाषा, भेद, तथा उदाहरण

 

निष्कर्ष

किसी दो पक्ष को उपस्थित किया जाता है और सादृश्य रूप में दर्शाने या तुलना करने का प्रयत्न किया जाता है वहां उदाहरण अलंकार माना जाता है।

आशा है आपको यह लेख पसंद आया होगा पर आपको अपने सभी प्रश्नों के जवाब मिल गए होंगे एवं आपको यह विषय आसानी से समझ में आ गया होगा परंतु अगर अब भी कुछ ऐसा शेष है जो आपको समझ में ना आया हूं या फिर यहां पर किसी प्रकार की गलती दिखाई दी हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं तथा बता सकते हैं।

संबंधित विषय से प्रश्न पूछने के लिए कमेंट बॉक्स में लिखें।

Leave a Comment