pradushan ke liye nibandh प्रदूषण पर निबंध

प्रदूषण आज विश्वव्यापी समस्या बन गई है, जिसकी चिंता पूरे विश्व में है इसके लिए हर स्तर पर बैठक और इस समस्या के समाधान के लिए कदम उठाए जाते हैं। समस्या इतनी गंभीर है जिसका निवारण करना मानव जीवन को सुरक्षित रखने के लिए अति आवश्यक है। इस समस्या का निराकरण एकाएक नहीं किया जा …

Continue reading

जीवन युद्ध है आराम नहीं पर निबंध लिखिए jeevan yudh hai aram nhi nibandh

निबंध व्याकरण का हिस्सा है, दसवीं कक्षा तक परीक्षा में निबंध लिखने को मिलता है। विद्यार्थी इस विषय के प्रति जानकारी दो रखता है, किंतु उसे लेखन शैली और निबंध लिखने की प्रक्रिया की जानकारी का अभाव होने के कारण वह इस विषय को व्यवस्थित रूप से लिख नहीं पाता जिसके कारण लगभग दस अंक …

Continue reading

शिक्षा निदेशक को पत्र ( Letter to director of education )

विद्यालय की परीक्षा में विभिन्न उद्देश्यों के लिए शिक्षा निदेशक को पत्र लिखे जाते हैं, सभी उद्देश्यों का प्रारूप एक समान होता है थोड़ा बहुत प्रारूप तथा उद्देश्यों में परिवर्तन होता है। इस लेख के अध्ययन से आप शिक्षा निदेशक को विभिन्न उद्देशयों के लिए पत्र लिखने की विधि जान पाएंगे और स्वयं भी लिख …

Continue reading

ध्वनि प्रदूषण की समस्या के लिए संपादक को पत्र

प्रस्तुत लेख में हम ध्वनि प्रदूषण से संबंधित विभिन्न प्रकार के पत्र का अध्ययन करेंगे,पत्र के प्रारूप को समझेंगे, इस लेख के अध्ययन से आप विभिन्न प्रकार के पत्र स्वयं लिखने में सक्षम हो सकेंगे। पत्र के माध्यम से व्यक्ति अपने विचार, सुझाव या शिकायत दायित्ववान अधिकारी तक पहुंचा पाता है। इसका प्रयोग पहले सूचनाओं …

Continue reading

व्यंजन संधि की परिभाषा, भेद और उदाहरण

संधि मुख्य रूप से तीन प्रकार की मानी जाती है। स्वर संधि, व्यंजन संधि, विसर्ग संधि। संधि का अर्थ है जोड़ करना अर्थात दो के बीच के जोड़ को संधि कहते हैं। इस लेख में व्यंजन संधि का विस्तृत रूप से उदाहरण सहित अध्ययन करेंगे। यहां अनेकों ऐसे उदाहरण प्रस्तुत किए गए हैं जो विद्यार्थियों …

Continue reading

काल हिंदी व्याकरण ( संपूर्ण ज्ञान ) भेद तथा उदाहरण सहित

समय को हम काल कहते हैं जिन्हें तीन वर्गों में विभाजित किया गया है – वर्तमान काल, भूतकाल, भविष्य काल। वर्तमान जिस समय हम उपस्थित हैं, भूतकाल जिस समय को हमने पीछे छोड़ दिया है, भविष्य काल आगे आने वाला समय।  इन्हीं तीन काल पर सृष्टि की गतिविधियां निर्भर करती है। प्रस्तुत लेख में हम …

Continue reading

विसर्ग संधि की परिभाषा, पहचान, उदाहरण ( सम्पूर्ण ज्ञान )

इस लेख में हम विसर्ग संधि का विस्तृत रूप से अध्ययन करेंगे और यह किस प्रकार किया जाता है यह भी करना जानेंगे। किसी दो के बीच के मेल को संधि कहते हैं। व्याकरण के अंतर्गत तीन प्रकार की संधि मानी गई है। स्वर संधि, व्यंजन संधि और विसर्ग संधि। इन सभी के अलग-अलग गुण …

Continue reading

शब्द शक्ति ( अभिधा, लक्षणा, व्यंजना ) का सम्पूर्ण ज्ञान

इस लेख में आप शब्द शक्ति का विस्तृत रूप से अध्ययन करेंगे। यह लेख आपके सभी प्रकार की परीक्षाओं के लिए कारगर है। किसी शब्द का अर्थ या प्रभाव उस शब्द की शक्ति कहीं जाती है। हिंदी व्याकरण में इसका विशेष महत्व है। हिंदी व्याकरण के अंतर्गत अभिधा, लक्षणा, व्यंजना, तीन प्रकार की शब्द शक्तियां …

Continue reading

वचन की संपूर्ण जानकारी ( परिभाषा, भेद तथा उदाहरण )

यह विषय हिंदी व्याकरण का एक अंग है जिसके अंतर्गत हम संख्या के रूप में अध्ययन करते हैं, आज के लेख में हम वचन की परिभाषा उदाहरण भेद आदि को विस्तार पूर्वक अध्ययन करेंगे। साधारण अर्थों में लोग भ्रांति के कारण वचन को किसी के द्वारा कहे गए वचन, बोली समझ लेते हैं। जैसे – …

Continue reading

अयादि संधि की परिभाषा, उदाहरण सहित पूरी जानकारी

अयादि संधि स्वर संधि का भेद है , संधि का अर्थ है मेल करना। स्वर संधि के अंतर्गत दो स्वरों के मेल से नए स्वर के रूप में परिवर्तन ही स्वर संधि कहलाता है। इस लेख में आप अयादि संधि का विस्तृत रूप से अध्ययन करेंगे इन्हें किस प्रकार बनाया जाता है, इसका अभ्यास करेंगे। …

Continue reading